EVM को लेकर हंगामा करने की वज़ह से 300 सपाइयों के खिलाफ दर्ज किया गया केस

image

वाराणसी में प्रशिक्षण के लिए जा रही EVM लदी गाड़ी पकड़ने के बाद हुए बवाल के मामले में प्रशासन ने तीन सौ अज्ञात सपाइयों पर हत्या के प्रयास समेत कई धाराओं के तहत मुकद्दमा दर्ज किया है।

एडीजी जोन रामकुमार की गाड़ी पर पथराव हुआ था। उनका चालक लालता प्रसाद घायल हुआ था। चालक की ही तहरीर पर लालपुर-पांडेयपुर पुलिस ने हत्या के प्रयास, लूट, बलवा, सरकारी काम में बाधा समेत 16 संगीन धाराओं में मुकद्दमा दर्ज किया है। वीडियो व फोटो के जरिये अज्ञात उपद्रवियों की पहचान कर कार्रवाई की जाएगी।

पहड़िया मंडी स्थित मतगणना स्थल पर रखी गई EVM में हेराफेरी का आरोप लगाते हुए सैकड़ों सपाइयों ने बीते मंगलवार शाम हंगामा किया था। मंडी के मेन गेट समेत परिसर में वह धरने पर बैठ गए थे। बैरिकेडिंग तोड़ स्ट्रांग रूम में दो बार घुसने की कोशिशों में सुरक्षाबलों से उनकी धक्कामुक्की हुई थी। इसके बाद प्रशासन विरोधी नारेबाजी के बीच मंडी के सामने पांडेपुर-पहड़िया रोड पर जाम लगा दिया था।

घटना के बाद मौके पर मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल, जिला निर्वाचन अधिकारी कौशल राज शर्मा, पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश के साथ ही एडीजी जोन राम कुमार पहुंचे थे। एडीजी जोन का वाहन जैसे ही मंडी के गेट से भीतर पहुंचा, गेट नंबर दो के पास उसे रोकने के साथ ही पीछे से पत्थरबाजी शुरू हो गई। घटना में एडीजी जोन राम कुमार को चोट तो नहीं आई लेकिन चालक लालता प्रसाद यादव के कान व जबड़े में गंभीर चोट लग गई। वह बेहोश हो गये। गनर श्याम दुलारे सिंह को भी चोट लग गई।

पथराव में एडीजी जोन के वाहन के शीशे टूट गये। शीशा के साथ ही साइड मिरर, फ्लैग लाइन, बम्फर व दरवाजे का शीशा क्षतिग्रस्त कर दिये। वाहन के ऊपर लगा वायरलेस एन्टीना कुछ लोग तोड़कर लेकर भाग गये। इस दौरान नारेबाजी व अभद्र भाषा का इस्तेमाल होता रहा। उग्र भीड़ जोर-जोर से बोल रही थी कि इतना मारो की मर जाए, जिन्दा बचकर न जाने पाये। अज्ञात लोगों पर बलवा, धमकी देने, मारपीट, सरकारी काम में बाधा, सरकारी संपत्ति का नुकसान, सार्वजनिक संपत्ति का नुकसान, हत्या के प्रयास, लूट समेत 16 धाराओं में मुकद्दमा दर्ज कर पुलिस आरोपितों को चिह्नित कर रही है।

Related Stories