अखिलेश यादव ने चला बड़ा सियासी दांव, जातिगत जनगणना कराने का किया वादा

image

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए बड़ा सियासी दांव चला है। उन्होंने वादा किया है कि अगर उनकी सरकार बनती है तो 3 महीने के अंदर की जातिगत जनगणना कराई जाएगी।

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा की साजिश है कि आरक्षण खत्म कर दो और सब चीजें प्राइवेट कर दो। भाजपा सरकार हवाई अड्डे बेच रही है। ट्रेन बेचने की तैयारी है। पानी के जहाज बेचे जा रहे हैं। बंदरगाह बेचे जा रहे हैं जब सब बिक जाएगा तो नौकरी रोजगार कैसे मिलेगा? उन्होंने कहा भाजपा के लोग वादा कर रहे थे कि किसानों की आय दुगनी हो जाएगी पर 5 साल में कितने किसानों की आय दोगुनी हुई?

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा के राज में युवाओं के पांच साल इंतजार में कट गए। नौजवानों को कोई रोजगार नहीं मिला। समाजवादी सरकार बनेगी तो टीईटी, बीएड, बीपीएड, 69 हजार शिक्षक भर्ती, शिक्षामित्र सबको नौकरी देंगे। उन्होंने कहा बड़े-बड़े उद्योगपति भारत से बैंकों का पैसा लेकर भाग गए, वे कहां के थे? अभी एक और उद्योगपति बैंक से पैसा लेकर भागा है वह कहां का है? समाजवादी पार्टी ने तय किया है कि आउटसोर्स व्यवस्था को खत्म करेंगे।
अखिलेश यादव ने कहा कि कोरोना के समय अगर सरकार सही समय पर इलाज करा देती तो जाने बच जाती। 

भाजपा ने गरीबों को अनाथ छोड़ दिया। भाजपा सरकार जो राशन दे रही है वो मार्च तक ही मिलेगा। दिल्ली के बजट में इसके लिए पैसा नहीं है। समाजवादी पार्टी  जब सरकार में आएगी तो जब तक सरकार रहेगी गरीबों को राशन मिलता रहेगा और राशन में सरसों का तेल और घी भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था चौपट हुई है। भाजपा सरकार में हिरासत के दौरान सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं। पूरे देश में उत्तर प्रदेश ही ऐसा है जहां का आईपीएस फरार है। अधिकारी माफिया की पिच बनवा रहे है। आज सबसे ज्यादा असुरक्षित बहन बेटियां है। पंचायत चुनावों के दौरान समाजवादी पार्टी प्रत्याशी का कपड़ा फाड़ने का मामला कौन भूलेगा? उन्होंने कहा डबल इंजन की सरकार में भ्रष्टाचार डबल हुआ है।

Related Stories